दोस्तो क्या आप जानते है की भारत मे एक ऐसा राज्य भी है जहाँ की राजभाषा हिंदी या कोई  क्षेत्रीय भाषा नही बल्कि अंग्रेज़ी है,जी हाँ दोस्तो आप  बिल्कुल सही सुन रहे है,और भारत के उस राज्य का नाम nagaland है । जहाँ के लोग आपसी बोलचाल मे भी अंग्रेज़ी भाषा का इस्तेमाल करते है।

दोस्तो nagaland भारत का एक ऐसा उतर पूर्वी राज्य है जिसे चारो तरफ से खूबसूरत वादियो ने घेर रखा है, यहाँ के लोग हो सकता है की बड़ी बड़ी गाड़ियों मे मे ना घूमते हो लेकिन यहा के लोगो का दिल बहुत बड़ा होता है

 भारत के इस उतर पूर्वी राज्य को festival की नगरी भी कहा जाता है, यहाँ के किसान पूरे देश के लिए अनाज उपजाते है, यहाँ का नजारा इतना खूबसूरत है की जो एक बार आता है वो भी यहाँ का दीवाना बन जाता है,।

दोस्तो आज के इस video मे हम भारत के सबसे खूबसूरत राज्य नागालैंड के बारे मे जानेंगे … . ..

तो चलिए वीडियो को शुरू करते है।।।।।।

दोस्तो nagaland की कुल आबादी 23 लाख है, यहाँ की population density की बात की जाए तो  119 लोग per square kilometer है। यहाँ पर आपको कुल 4 बड़ी नदिया देखने को मिलेगी, जो यहाँ के किसानो के लिए जान  है ।

दोस्तो हम आपको बता दे की इस राज्य का नाम नागालैंड कैसे पड़ा,  नागा का मतलब है hill man, इस प्रकार नागालैंड एक hill man की भूमि है क्युकी यहाँ चारो तरफ पहाड़ ही पहाड़ है, इसीलिए इसे nagaland कहा जाता है।

Nagaland राज्य भारत के northeast मे स्थित है और इसकी राजधानी कोहिमा है । ।

इसके borders पर west मे assam, east मे myammar जिसे पहले burma के नाम से जाना जाता था और north मे arunchal pradesh और south मे manipur स्थित है।

साल 1890 तक nagaland मे british ने यहाँ शाशन किया और सारे traditional custom जैसे की hunting इत्यादि को गैर कानूनी कर दिया।

नागालैंड का सबसे बड़ा शहर है दिमापुर और यहाँ की सबसे ऊँची चोटी है mount सरामती  , जिसकी समुद्र तल से ऊँचाई 3826 मीटर है।

दोस्तो दिमापुर को gate way of nagaland कहा जाता है, क्युकी nagaland का अकेला airport सिर्फ और सिर्फ दिमापुर मे स्थित है।

Nagaland को, 1 dec 1963 को भारत के 16 वे राज्य के रूप मे दर्जा दिया  गया था । Nagaland की climate मानसुनि और थोड़ा बहुत humidity वाली होती है, यहाँ बारिश का सालाना औसत 70-100 इंच रहता है।

नागालैंड मे सौ से भी ज्यादा driver रहते है, लेकिन यहाँ हर driver की अपनी अलग अलग भासाये होती है, यही कारण है की tourist  की पसंदीदा जगहो मे ये राज्य  हमेशा top पर रहता है ।

दोस्तो नागालैंड की gdp 4.2 million dollar के आस पास है जो इसे भारत के सबसे ज्यादा gdp वाले राज्यो मे शामिल करती है ।

आपको बता दे की नागालैंड मे 100 से भी ज्यादा जंजातिया रहती है और सबकी भाषा अलग अलग और यहाँ तक की वेश भूसा भी अलग है। Nagalnd मे जितनी diversity आपको देखने को मिलेगी ना, उतनी तो पुरे भारत के किसी अन्य राज्य मे नही देखने को मिलेगी ।

राज्य के ज्यादा तर लोग कृषि क्षेत्र से जुड़े हुए है। चावल मक्का, डाले गेहूँ यहाँ की सबसे प्रमुख फसले है । Nagaland मे एक लाल मिर्च की खेती की जाती है जिसका नाम bhoot jolokia है, इसे दुनिया की सबसे तीखी मिर्च माना जाता है और इसका नाम guiness book of world record मे भी दर्ज है , इस मिर्च का छोटा सा भी टुकडा खाने के बाद आपके मुह मे  आग लग जायेगी और काफी देर तक आपका मुह जलता रहेगा।

दोस्तो nagaland के लोग बहुत खुश हाल माने जाते है और शांति के साथ अपनी जिंदगी बिताने मे विश्वास रखते है । यहाँ के लोग daily के tension से बहुत फ्री रहते है हालांकि यहाँ के लोग अंधविश्वास मे बहुत ज्यादा यकीन रखते है। 

यहाँ पर लोग सपनो के जरिये भविस्य देखने का दावा करते है, अगर किसी लड़के और लड़की की के बीच रिस्ता पक्का हक जाए तो ये शादी से पहले ही महिला या पुरुष को कोई खतरनाक सपना आ जाए तो उस शादी को तोड़ दिया जाता है।

दोस्तो यहाँ की वेश भूसा भी काफी अलग है ।

पहले के समय मे लोग यहाँ पर चमड़े के बने हुए कपड़े पहना करते थे, जैसे जानवर की खाल से अपने शरीर को ढकते थे और हड्डियो से बनी माला पहना करते थे, हालांकि इस प्रकार की माला पेहन ने का रिवाज अब भी कुछ जंजातियो के बीच मे है , वैसे अब nagaland मे लोग एक रंग बिरंगे कपड़े को अपने शरीर पर लपेट ते है और उसे ही अपनी पारम्परिक पोसाक मानते है, यहाँ पर लोग अपने पैरो मे बड़े बड़े कड़े पहनते है ऐसा इसलिए, क्युकी इन कडो की मदद से लोगो को पेड़ो पर चढ़ने मे आसानी होती है , ज्यादतर लोगो को लगता है की आदिवासी समुदाय ज्यादा होने के कारण नागालैंड मे शिक्षा को जयादा मेहतव् नही दिया जाता होगा, लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी की nagaland की literacy rate लगभग 90 percent है जी हाँ, यहाँ के आदिवासी लोग अपने बच्चे को school मे जरूर भेजते है ।

माना जाता है की nagaland मे आज भी ऐसी कई जंजातिया है जो नरभक्षी है, और वहाँ आम लोगो को जाने की अनुमति नही है, हैरानी की बात तो ये है की नागालैंड में जाने के लिए bhartiyo को भी inner line permit लेना होता है और यहाँ पर कोई भी बाहरी व्यक्ति जमीन नही खरीद सकता और इस राज्य मे पताखो पर तो पूरी तरह से ban लगा हुआ है, क्युकी पताखो से environment और प्रकृति का नुकसान तो होता ही होता है साथ ही कई जंजातियो के लोगो को ये लगता है की उनके उपर कोई बाहरी लोग हमला कर रहे है जी हाँ, इसीलिए वो कभी कभार आक्रामक रवाईया अपनाते है ।

यहाँ पर whiskey rum और beer के अलावा अन्य प्रकार की सभी शराब पर ban लगा हुआ है ।

चुकी नागालैंड मे ज्यादातर लोग मासाहारी  है, इसलिए यहाँ के बाज़ारो मे कुत्ते से लेकर सुवर तक सभी जानवरो का मांस बिकता है । nagaland कें लोग कुत्तो का मांस तो बड़े ही चाव से खाते है इसके अलावा यहाँ मंदियो मे मेधको को टब मे रखकर बेचा जाता है इसके अलावा घोंघे, चूहे बतख केकड़े और, कबूतर खरगोश sheep, ऐसे बहुत सारे जानवरो को यहाँ पर मन्डीयो मे बेचा जाता है।

इसके अलावा कई अन्य कीड़े मकोड़े खाना यहाँ के लोगो को बहुत ही पसंद है मंडी के दूसरे छोर पर फल और सब्जियो का मार्केट लगता है।

लेकिन नागालैंड के लोग फल और सब्जियां खाना बहुत ही कम पसंद करते है, शायद इसी लिए फल सब्जी को किसी दूसरे छोर पर लगाया जाता है।

दोस्तो nagaland के लगभग 85 percent लोग ईसाई धर्म को मानते है वही हिंदू मुस्लिम बौद्ध और जैन धर्म के लोग भी यहाँ रहते है , यहाँ पर आपको कई church और monastries देखने को मिलेंगे ।

नागालैंड की राजधानी कोहिमा से लगभग 390 किलोमीटर की दूरी पर स्थित लोंगवा नाम का एक गाँव है जो म्यम्मार के border पर बसा हुआ है, इस गाँव मे लोग  किसी भी प्रकार की सीमा रेखा को नही मानते है और आसानी से लोग यहाँ से myammar में enter कर जाते है ।

लोंगवा गाँव के मुखीया के घर के बिचो बीच से border जाता है, जो भारत और म्यम्मार को अलग करता है, मजे की बात तो ये है दोस्तो की कई लोगो के पास यहाँ पर दो दो देशो की नागरिकता भी है, आज के समय मे लोंगवा मे लगभग पांच हजार 200 लोग रहते है, लोंगवा के नज़दीकी मे कोयनक जंजाति के लोग रहते है जो पूरे नागालैंड मे सबसे खतरनाक जंजाति मानी जाती है, इस जंजाति की परम्पराएँ बिल्कुल अलग है।

एक समय मे यहाँ पर लोग पडोशी कबीले मे जाकर दूसरे लोगो को हत्या करते थे और, उनकी खोपड़ी लाकर अपने गाँव मे खुले आसमांन के नीचे लटका दिया करते थे, जो सबसे ज्यादा खोपड़ियाँ इक्था करता था उसे कबीले का सरदार नियुक्त कर दिया जाता था और पूरे कबीले की सबसे सुंदर लड़की के साथ उसका विवाह करा दिया जाता था। लेकिन अब इस परंपरा पर सरकार ने रोक लगा दी है।

नागालैंड को land of festival के नाम से जाना जाता है, आप साल मे किसी भी समय इस राज्य मे जायेंगे, तो आपको लोग किसी ना किसी प्रकार के उत्सव को मनाते हुए नजर आ जायेगे उनमे से hornbill festival इस राज्य का सबसे प्रमुख और बड़ा त्योहार माना जाता है, ये festival हर साल एक से 10 dec तक चलता है इसमे लोग जमकर मौज मस्ती करते है और लाजवाब tribal foods का मजा उठाते है ।

Tribal पक्वानो मे सबसे ज्यादा खाये जाने वाले पकवान मे अखुनी, सुख बास के sprout और pork आदि शामिल है, इस त्योहार मे लोग अपनी पारंपरिक वेश भूसा पहनते है और मिलकर जमकर नृत्य करते है।  चावल से बनाई जाने वाली खास देसी शराब भी इस festival के दौरान खूब पी जाती है, hornbill के अलावा tuluni festival, यमसी festival, secreni festival भी नागालैंड के प्रमुख त्योहारो मे से एक है ।

तो चलिए अब बात करते है नागालैंड मे घूमने लायक मनमोहक जगहो के बारे मे ——

वैसे तो ये पुरा राज्य ही आपको अपनी ओर आकृषित करता है, हर मोड और हर समय आपको नया दृषय देखने को मिल जायेंगा, हर चोटी से प्रकृति का खूबसूरत न्जारो का आप लुत्फ़ उठा सकते है, अगर आप रंग बिरंगे फूल देखना चाहते है तो आपको यहाँ की valley का शैर जरूर करे, यहाँ की valley मे जहा तक आपकी नजर जायेगी, वहाँ तक खूबसूरत फूल ही फूल  आपको नजर आयेगे, इसके आलावा Mokokchung  nagaland का सबसे पुराने गाँवो मे से एक है और trekking के शौकीन लोगो के लिए यहाँ की चापु  चोटी मुख्य आकर्षण की बिंदु है । ये nagaland की दूसरी सबसे ऊँची चोटी है और इस चोटी के कारण ही नागालैंड को north east का switzer land कहा जाता है ।

इसके अलावा natanki national park, fekum wild life sanctuary और रंगा wildlife sanctuary जैसे udyan मे आप जंगल सफारी का आनंद ले सकते है।

वैसे तो पूरे साल ही नागालैंड का मौसम बेहद सुहावना रहता है, लेकिन बरसात के दौरान, इस राज्य की सुंदरता देखने लायक होती है  ।।

नागालैंड घूमने के लिए मई से september तक का समय सबसे अच्छा माना जाता है ।

यहाँ पर ज्यादा गर्मी ना होने के कारण बड़ी संख्या  में tourist सुकूँ के पल बिताने आते है, अगर आप प्रकृति को नज़दीक से देखना चाहते है और आप अपनी भाग दौड़ भरी जिंदगी से कुछ समय अपनो के साथ बिताना चाहते है तो nagaland आपके लिए बहुत ही favourite और suitable होगा क्युकी ये बहुत बड़ा tourist destinaion है ।

नागालैंड को जब से पूर्ण राज्य का दर्जा मिला है तबसे लेकर 2012 तक यहाँ कोई भी महिला विधायक नही थी, क्युकी नागालैंड मे जयादा तर आदिवासी समुदाय के लोग रहते है, जिनमे महिलाओ को घर से बाहर निकलना या फिर चुनाव आदि प्रक्रिया मे शामिल होना गलत माना है, हालांकि पिछले  साल Phangnon Konyak को पहली महिला mp होने का गौरब प्राप्त हुआ है ।

इन सभी चीजो को देखने के बाद ये साफ पता चलता है की नागालैंड मे भी चीजे बदल रही है और नागालैंड की राजनीति मे महिलाओ की भागीदारी बढ़ रही है।

Nagaland का state animal ghariyal और safed मुह वाले kingfisher को यहाँ का स्टेट bird का दर्जा प्राप्त है।।

और यहाँ पर कई तरह के minerals भी पाए जाते है।

दोस्तो आपको nagaland के बारे मे कौन सी बात अच्छी लगी हमे comments मे जरूर बताये और

हमारी वीडियो को like करना ना भूले।

मिलते है next वीडियो मे, तब तक के लिए dhanyawad।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *